बाबा रामदेव के ये 10 आयुर्वेदिक दवां जो बचा सकती है आपकी ज़िन्दगी

बाबा रामदेव के बारे में तो आजकल सब जानते ही है और आप ये भी जानते होंगे की बाबा रामदेव बीमारियों के इलाज के लिए देसी घरेलू नुस्खे इस्तेमाल करने के लिए लोगों को जागरूक करते है और इसके साथ साथ रोगों के उपचार योगा से करने की जानकारी भी देते है। आज हम बाबा रामदेव के नुस्खे और उपाय बतायेंगे।

बाबा रामदेव के घरेलु उपाय :
गाँठ घुलने के लिए : शरीर में कहीं भी गाँठ हो तो इसका सबसे बढ़िया उपाय है हल्दी का प्रयोग। 1 से 2 ग्राम हल्दी गुनगुने पानी के साथ लेने से गाँठ घुल जायेगी।
मा-सिक धर्म : मा-सिक धर्म की अनियामता दूर करने के लिए अशोकारिष्ट और दशमूलारिष्ट का सेवन करने से फायदा मिलता है।
विकास ना हो रहा हो तो : किसी लड़की को अगर का विकास ना हो रहा हो तो वह का साइज़ बढ़ाने के लिये शतावर का प्रयोग करे।

स्त्री रोगों से जुड़ी समस्याओं में : नियमित रूप से कपालभाती प्राणायाम करने पर लिकोरिया, मा-सिक धर्म और दूसरे स्त्री रोगों से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा मिलता है, इसके इलावा 4-4 चम्मच एलोवेरा जूस और आँवला जूस पीने से भी फायदा मिलता है।
एसिडिटी, शुगर की बीमारी, त्वचा रोग और गठिया (आर्थराइटिस) : एलोवेरा के सेवन से चेहरे और शरीर की स्किन भी अच्छी रहती है और इसके साथ साथ एसिडिटी, शुगर की बीमारी और गठिया (आर्थराइटिस) की बीमारी में भी राहत मिलती है।

माइग्रेन के दर्द में : सिर में दर्द हो रहा हो तो कुछ देर अनुलोम विलोम करने से दर्द कम होने लगता है, देसी तरीके से इलाज करना हो तो बादाम का तेल या गाय का घी नाक में डाले और सिर दर्द की आयुर्वेदिक दवा लेनी हो तो दिव्या मेधा वटी ले सकते है। गाय के घी का प्रयोग माइग्रेन के दर्द में भी रामबाण का काम करता है।

आधे सिर में दर्द : आधे सिर में दर्द हो तो देसी घी की जलेबी खा कर दूध पी लो।
खुजली होने से धफड़ : कई बार स्किन पर खुजली होने से धफड़ निकल आते है, इसके इलाज के लिए 5 काली मिर्च, 5 चम्मच खांड और 5 चम्मच घी मिलाकर खाने से इससे छुटकारा मिलता है।

लिकोरिया की समस्या : लिकोरिया की समस्या हो तो शीशम के पत्तों का उपयोग उतम है। 8 से 10 शीशम के पत्तों को पीस कर पानी में मिलाकर पी ले, इस उपाय के लिए ताज़ा पत्तों का इस्तेमाल करे और हमेशा ताज़ा पत्ते ना मिले तो पत्तों को छाया में सूखा कर इनका पाउडर बना कर सेवन करे।

लिकोरिया में एक्यूप्रेशर : लिकोरिया के इलाज में एक्यूप्रेशर करने से भी लाभ मिलता है। कलाई में जिस जगह चूड़ीयाँ पहनी जाती है उस जगह उपर वाले हिस्से को दबाने से प्रदर रोग में आराम मिलता है।
सिर के बाल उड़ गये हो और गंजापन दिखने लगा है तो नींबू के बीजो को पीस कर सिर पर लगाए। इस उपाय से नये बाल उगने लगेंगे।

पेट में क़ब्ज़ रहती हो तो धनुरासन करने से क़ब्ज़ की समस्या से निजात मिलती है।
सेब और आँवले का मुरब्बा लो ब्लड प्रेशर में काफ़ी लाभदायक है। 10 ग्राम शहद में 2 ग्राम आँवले का रस मिला कर सुबह इसका सेवन करने से लो ब्लड प्रेशर नॉर्मल होने लगता है।
पेट में मरोड़ उठ रही हो या दस्त लगे हो अदरक का एक छोटा टुकड़ा मुँह में दाल कर इसका रस चूस ले, कुछ देर में ही आराम मिलने लगेगा।

लिवर की गर्मी के उपाय करने के लिए मुलेठी की जड़ को पीस कर पाउडर बना ले और इसे उबलते हुए पानी में डाले। अब इस पानी के ठंडा होने के बाद इसे छान कर पिए इससे लिवर की गर्मी दूर होगी।
दांतों की समस्याओं से बचने के लिए दिव्या दन्त क्रांति का इस्तेमाल करे और इसके इलावा हर रोज मंजन या दातुन करने से भी दांतो और मसूढों के रोगो से बचा जा सकता है।

शरीर पर कही घाव हुआ हो तो 2 चम्मच बादाम के तेल में 2 बूंदे नींबू का रस मिला कर रुई की मदद से घाव पर लगाए। इस नुस्खे से घाव जल्दी ठीक हो जाएगा।
बहरापन की समस्या के लिए बाबा रामदेव के नुस्खे में दालचीनी के तेल में नींबू का रस मिला कर कान में डाले।
शरीर में खून के कमी हो तो ½ कप गाजर के जूस में नींबू निचोड़ कर पिए।
शुगर बढ़ गयी हो तो करेले के जूस का सेवन करे, इसके इलावा जामुन के पत्ते और मेथी के दाने भी शुगर कंट्रोल करने में उपयोगी है।

बवासीर के इलाज के लिए दिव्या अर्शकल्प वटी का सेवन करे, ये एक आयुर्वेदिक मेडिसिन है जो पतंजली की स्टोर से मिल जाएगी। बवासीर का उपचार योगा से करने के लिए रोजाना कपालभाती और अनुलोम विलोम प्राणायाम करे। आक और सहजन के पत्तों का लेप मस्सों पर लगाने से मस्से ठीक होने लगते है।
किड्नी (गुर्दे) की पथरी के उपचार के लिए दिव्य अश्मरीहर रस का प्रयोग करे। इस दवा से पित्त की पथरी का इलाज भी किया जा सकता है।

पतला होने के उपाय के लिए अगर आप 30 से 45 मिनट तक हर रोज नार्मल स्पीड दे थोड़ा तेज चले तो 1 महीने में 3 से 4 किलो तक वजन सिर्फ चलने से ही कम कर सकते है। इसके इलावा बाबा रामदेव योग, एक्सरसाइज, डाइट में अच्छा आहार और घरेलु नुस्खे भी जल्दी वेट घटाने में मदद करते है।