रात को सोते वक्त करें देसी घी का ये उपाए, कई बिमारियों से रहेंगे आप सदा के लिए दूर। आज से ही शुरू करें ये उपाए

देसी घी के गुणों की जितनी बात की जाए, उतना कम है। जी हां, देसी घी में कई औषधीय गुण पाए जाते हैं। आपने की तरह की बिमारियों में देसी घी का प्रयोग करने के बारे में सुना होगा। मालूम सी खांसी हो फिर त्वचा संबंधी कोई रोग। हर बिमारी में देसी घी का नुस्खा बड़ा ही लाभदायक होता है। शायद ही आप जानते हों, लेकिन देसी घी में ऐसे माइक्रोन्यूट्रींस होते हैं जिनमें कैंसर युक्त तत्वों से लड़ने की क्षमता होती है। देसी गाय का घी शारीरिक, मानसिक और बौद्धिक विकास एवं रोग-निवारण के साथ पर्यावरण-शुद्धि का एक महत्त्वपूर्ण साधन है। ऐसे में हर रोज रात को सोते वक़्त नाक में 2 – 2 बूंद गाय का देसी घी डालना हमारे लिए बहुत फायदेमंद होता है। देसी घी को लेट कर नाक में डाले और हल्का सा खिंच ले। ऐसा करने से आपको होने कुछ ऐसे लाभ।

1. आंखों की रोशनी बढ़ना- रात को दो चम्मच देसी घी नाक में डालने से इसका असर आपके आंखों पर भी पड़ता है। इससे आपके आंखों की रोशनी तेज होती है। साथ ही एक चम्मच गाय के शुद्ध घी में एक चम्मच बूरा और 1/4 चम्मच पिसी काली मिर्च इन तीनों को मिलाकर सुबह खाली पेट और रात को सोते समय चाट कर ऊपर से गर्म मीठा दूध पीने से भी आंखों की रोशनी बढ़ती है।

2. माइग्रेन में राहत– कहा जाता है कि जिन लोगों को अर्द्धकपाड़ी यानी कि माइग्रेन की बिमारी होती है, उनके लिए गाय का देसी घी बहुत फायदेमंद होता है। रात के वक्त देसी घी नाक में डालने से माइग्रेन में भी राहत मिलती है।

3. हार्ट अटैक- जिन लोगों को दिल की बिमारी होती है, उन लोगों को ज्यादा चिकनाई वाले खाने से काफी परहेज होता है। लेकिन तेल के जगह देसी घी का प्रयोग करना इसमें ज्यादा फायदेमंद होता है।

4. बाल झड़ना- बालों का झड़ना तो आजकल जैसे आम बात हो गया हो। अगर आप भी बालों के झड़ने से काफी ज्यादा परेशान हैं तो देसी घी के दो बूंद रात को सोते वक्त नाक में डालिए। फिर देखिए कमाल आपका बाल झड़ना भी बंद हो जाएगा और नए बाल भी आने शुरू हो जाएंगे।

5. त्वचा संबंधी रोगों में कारगर– देसी घी में कई गुण विद्यमान होते हैं। ये त्वचा संबंधी रोगों के लिए भी बड़ा ही गुणकारी होता है। गाय के देसी घी को ठंडे पानी में फेंट लें फिर घी को पानी से अलग कर लें। ऐसा आप करीब सौ बार करें। फिर उस बचे हुए घी में कपूर मिला दें। ऐसा करने से आपके पास एक औषधि बन कर तैयार हो जाती है। जिसे आप त्वचा संबंधी रोगों में इस्तेमाल कर सकते हैं। ऐसा करने से आपको त्वचा के रोगों से राहत मिलेगी।

6. कैंसर में फायदेमंद-गाय का देसी घी कैंसर जैसे रोग के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। ये सिर्फ कैंसर को होने से ही नहीं रोकता है, बल्कि ये कैंसर को शरीर में फैलने से भी रोकता है। देसी घी में कैंसर से लड़ने की अचूक क्षमता है।

7. हथेली और तलवों में जलन– अक्सर गर्मियों के मौसम में कई लोगों के हथेलियों और तलवों में जलन की समस्या होती है। ऐसे वक्त में हथेलियों और तलवों पर देसी घी की मालिश करनी चाहिए, जिससे जलन में काफी आराम मिलता है।